पलामू. जिला प्रशासन कोरोना (Corona) से बचाव के लिए एक साथ कई अभियान चला रहा है. लोगों को जरूरत के सामान भी उपलब्ध कराये जा रहे हैं. लेकिन राशन डीलर (PDS Dealer) की मनमानी से लाभुक परेशान हैं. तरहसी प्रखंड में कम राशन देने का मामला सामने आया. सूचना पर गांव पहुंचकर पांकी विधायक डॉ शशि भूषण मेहता ने नाराजगी जताई.

पांच से दस किलो कम राशन देने का आरोप 

तरहसी निवासी जसमतिया देवी ने बताया कि आरोपी डीलर एक लाभुक को पांच से दस किलो राशन कम दे रहा है. पांच यूनिट वाले लाभुक को 25 किलो की जगह 20 किलो, जबकि 40 किलो वाले लाभुक को मात्र 32 किलो राशन देता है. तरहसी निवासी मीना कुंवर का कहना है कि डीलर की मनमानी के चलते ग्रामीण परेशान हैं. कोरोना के खौफ के बीच लोग घरों से निकलकर राशन लेने आते हैं. लेकिन उन्हें कम राशन दिया जाता है. विरोध करने पर राशन नहीं देने की धमकी दी जाती है.

डीलर ने दी ये सफाई 
लाभुकों की शिकायत पर जब सोमवार को पांकी के बीजेपी विधायक डॉ शशि भूषण मेहता ने गांव पहुंचकर डीलर से की पूछताछ, तो डीलर गणेश प्रसाद गुप्ता ने सफाई देते हुए कहा कि उसे ऊपर से ही कम राशन मिलता है. इसलिए वह लाभुकों को कम राशन देता है.

सभी डीलरों की यही हालत- बीजेपी विधायक 

बीजेपी विधायक ने आरोप लगाया कि पूरे प्रखंड के सभी डीलरों की यही हालत है. लाभुक लगातार इस सिलसिले में उनसे शिकायत करते हैं. प्रशासन को भी जानकारी दी जाती है. यह दुखद है कि कोरोना महामारी के इस संकट की घड़ी में भी डीलरों की मनमानी पर कोई नकेल नहीं है.

गरीबों को दो महीने का राशन एडवांस देने का आदेश 

बता दें कि राज्य सरकार ने कोरोना संकट को देखते हुए गरीबों को दो महीने का राशन एडवांस देने का आदेश दिया है. राशनकार्ड नहीं होने पर भी राशन देने का निर्देश दिया है. लेकिन डीलरों की मनमानी की शिकायत कई जिलों से सामने आ रही है. हाल में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के निर्देश पर दो डीलरों पर कार्रवाई की गई.